नमस्कार ये बिहार है यहां जिंदा आदमी को भी दि जाती है श्रद्धांजलि - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

नमस्कार ये बिहार है यहां जिंदा आदमी को भी दि जाती है श्रद्धांजलि

Share This
संवाद 

मैं मरा नहीं हूं…..मैं जिंदा हूं…। पटना विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रोफेसर शंभूनाथ सिंह इसी तरह अपनी मौत की अफवाह का खंडन करते बीता। जनकारी के अनुसार एक शिक्षक द्वारा पीयू टीचर्स व्‍हाट्सएप ग्रुप पर डाल दी गई. फिर क्या था देखते ही देखते बिना सत्यता की जांच किये ही श्रद्धांजलि देने वालों का सिलसिला शुरू हो गया. पूर्व कुलपति शंभूनाथ सिंह की मौत की व्‍हाट्सएप ग्रुप पर देखने के बाद उनके फोन किया गया पहले तो फोन नहीं उठाए इसके बाद अफवाह का और हवा मिली। पूर्व कुलपति शंभूनाथ सिंह ने खुद फोन कर के जनकारी दी। कुछ शरारती तत्वों द्वारा मेरे मरने की खबर फैला रही है में अभी दिल्ली में हूँ बिल्कुल स्वास्थ हूँ। और ये सुनकर आहत हूँ शंभूनाथ सिंह ने कहा कि अगर किसी के बारे में मरने की बात हो तो पहले सत्यापन कर लें। 

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages